क्या इंट्राडे ट्रेडिंग सुरक्षित है?

ये बात आप सभी जानते है कि शेयर बाजार में इंट्राडे ट्रेडिंग से काफी कम समय में बेहतरीन मुनाफा कमाया जा सकता है, लेकिन ऐसे में हमें यह बात भी नहीं भूलनी चाहिए की, हर सिक्के के दो पहलू होते हैं। इंट्राडे ट्रेडिंग में कई तरह के जोखिम होते है तो शुरूआती ट्रेडर के लिए क्या इंट्राडे ट्रेडिंग सुरक्षित है?

इसके लिए एक ट्रेडर को शेयर बाजार के फायदे और नुकसान की जानकारी होना काफी आवश्यक है, तो आइये शुरू करते है इंट्राडे ट्रेडिंग मीनिंग के साथ

Intraday Trading in Hindi 

संक्षेप में समझे तो इंट्राडे ट्रेडिंग एक ही ट्रेडिंग दिन में शेयरों को खरीदना और बेचना की प्रक्रिया है, इसमें ट्रेडर मार्केट में होने वाले छोटे-छोटे बदलाव से मुनाफा कमाता है। यह एक प्रकार का शोर्ट टर्म ट्रेडिंग है।

इंट्राडे ट्रेडिंग में कीमतें कम होने पर स्टॉक खरीदना और एक दिन के ट्रेडिंग घंटों में कीमत अधिक होने पर उन्हें बेचना, या फिर गिरती हुए मार्केट में पहले बेचकर फिर खरीदना होता है। अब क्योंकि कम समय में महत्वपूर्ण निर्णय लेने होते है जैसे की किस स्टॉक में ट्रेड किया जाए, कब प्रवेश करे और कब बेचे, इन सभी में कई  जोखिम होते है।

लेकिन अगर सही स्ट्रेटेजी और शेयर बाजार के नियम का पालन कर ट्रेड की जाए तो इसमें आप कम समय में काफी मुनाफा भी कमा सकते है। अब  क्या इंट्राडे ट्रेडिंग सुरक्षित है या नहीं उसके लिए जानते है इसके कुछ फायदे और नुकसान।

इंट्राडे ट्रेडिंग के फायदे

एक ही दिन में खरीद और बिक्री और अधिक मुनाफा होने के कारण  इंट्राडे ट्रेडिंग ट्रेडर्स की पहली पंसद है। इंट्राडे ट्रेडिंग के कई फायदे है, जिसके बारे में आगे बात कर रहे है:

1. ट्रेडिंग ऐप की सुविधा

इंट्राडे ट्रेडिंग मोबाइल और डेस्कटॉप ट्रेडिंग ऐप पर ऑनलाइन की जा सकती है। आपको बस एक ट्रेडिंग अकाउंट चाहिए। आप एप्लिकेशन या प्लेटफॉर्म पर टार्गेट प्राइस, स्टॉप लॉस (stop loss meaning in hindi) आदि पहले से सेट कर सकते हैं। 

इसके साथ बहुत सी ट्रेडिंग एप आपको एडवांस आर्डर टाइप का भी विकल्प प्रदान करती है जिससे आप मार्केट की वोलैटिलिटी से बच सकते है और अपने नुक्सान और प्रॉफिट को पहले से निर्धारित कर ट्रेड कर सकते है

2. मार्जिन की सुविधा 

इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए आपको ज़्यादा फण्ड की ज़रुरत होती है क्योंकि आपको मुनाफा कमाने के लिए वॉल्यूम में ट्रेड करना होता है। इसके लिए स्टॉक ब्रोकर इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए मार्जिन की सुविधा प्रदान करते है जिससे आप अपने ट्रेडिंग अकाउंट में रखे फण्ड  के आधार पर 5 गुना तक का मार्जिन प्राप्त कर सकते है।

इसको ऐसे समझ सकते हैं कि – जैसे यदि आपके खाते में 20,000 रुपए है तो आप 1 लाख रुपए तक की ट्रेडिंग कर सकते हैं। इससे आप अपने मुनाफे को कई गुना तक बढ़ा सकते है लेकिन साथ ही इसमें जोखिम भी अधिक होते है, क्योंकि अगर मार्केट आपके विपरीत दिशा में गयी तो उससे आपका नुकसान भी कई गुना तक बढ़ सकता है।

3. जल्द कमाई होना 

लॉन्ग टर्म इंवेस्टमेंट के विपरीत, आप इंट्राडे ट्रेडिंग से लगभग तुरंत कमाई प्राप्त कर सकते हैं। एक बार जब आप ट्रेडिंग से बाहर निकलते हैं, तो आपकी स्ट्रेटेजी और परफॉर्मेंस के आधार पर आप अपने लाभ की गणना कर सकते है

आप अपने ट्रेडिंग कैपिटल पूल में मुनाफे को फिर से ट्रेड करने का मन भी बना सकते है या अपने बैंक अकाउंट में धनराशि डाल कर इसे निकाल भी सकते है।

4.ओवरनाइट रिस्क ना होना

इंट्राडे ट्रेडिंग में एक सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें आप अपने शेयर्स को स्टॉक मार्केट में अगले दिन के लिए नहीं रखते हैं। जिस कारण आप रातों रात मार्केट में होने वाले परिवर्तन के रिस्क से बच जाते हैं।

कई बार समाचार पत्रों और अन्य स्रोतों के कारण बाजार के बंद होने और बाजार के खुलने के बीच शेयर की कीमत बदल जाती है और यह उतार-चढ़ाव शेयर की कीमत को प्रभावित कर सकता हैं। लेकिन आप इंट्राडे ट्रेडर है तो रात को आराम से चैन की नींद सो सकते हैं।

5. बेयरिश ट्रेंड में मुनाफा कमाने का मौका 

इंट्राडे ट्रेडिंग के साथ एक महत्वपूर्ण लाभ यह है कि आप बेयरिश ट्रेंड में भी मुनाफा कमा सकते हैं। किसी विशेष स्टॉक को खरीदने के बजाय, आप उस शेयर को बेच सकते हैं और बाद में मुनाफा कमाने के लिए उन्हें खरीद सकते हैं। इस प्रक्रिया को शार्ट सेलिंग कहा जाता है।

इसलिए बाजार की स्थिति चाहे बुलिश हो या बेयरिश डे ट्रेडर दोनों ही स्थितियों में ट्रेडिंग कर के पैसा कमा सकता है। यह लाभ आमतौर पर दूसरे इंवेस्टमेंट ऑप्शंस के लिए उपलब्ध नहीं होता है। 

6. कम ब्रोकरेज

इंट्राडे ट्रेडिंग का एक फायदा ये भी है कि इसमें ब्रोकरेज काफी कम देनी होती है। बहुत से डिस्काउंट ब्रोकर इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए बहुत ही मामूली ब्रोकरेज पर ही काम करने की सुविधा प्रदान करते हैं। इससे ट्रेडर को ज़्यादा मुनाफा कमाने का मौका प्राप्त होता है।


इंट्राडे ट्रेडिंग के नुकसान

क्या इंट्राडे ट्रेडिंग सुरक्षित है, इसका सही जवाब फायदों के साथ-साथ ट्रेड से जुड़े नुकसान पर विचार करके किया जाये तो एक ट्रेडर को सही जानकारी प्राप्त हो सकती है। यहाँ पर इंट्राडे ट्रेडिंग से जुड़े कुछ नुकसान की जानकारी दी गयी है।

1. अस्थिर बाजारों के दौरान जोखिम

इंट्राडे ट्रेडिंग में वोलैटिलिटी एक प्रमुख कारण है जिससे एक ट्रेडर मुनाफा कमा सकता है, लेकिन यही वोलैटिलिटी कई बार एक ट्रेडर के नुकसान का कारण बन जाती है। एक शुरूआती ट्रेडर मार्केट में तेज़ी से हो रहे उतार चढ़ाव को समझ नहीं पाते और अपना नुकसान कर बैठते है।

इंट्राडे ट्रेडिंग में 3-5% तक वोलेटाइल स्टॉक में ही ट्रेड करने का सुझाव दिया जाता है

2. घाटा होने की संभावना 

शेयर मार्केट में लाभ प्राप्त होने के साथ-साथ घाटा होने की पूरी संभावना होती है। शेयर मार्केट में प्रत्येक सेकंड में उतार- चढ़ाव होता है जिससे शेयर की कीमत में बदलाव होता है। 

डे ट्रेडर्स  के लिए शेयर मार्केट में अपनी स्ट्रेटेजी और तरीकों को बदलने के लिए पूरी तरह से फोकस्ड और तैयार रहना महत्वपूर्ण है। कमजोर व बिना तैयारी के बनाई गई स्ट्रेटेजी , शेयर मार्केट में इंवेस्टर के लिए मुनाफे से ज्यादा नुकसान लाती है। 


इंट्राडे ट्रेडिंग को कैसे सुरक्षित बनाएं

इस बात से पूरी तरह से इंकार नहीं किया जा सकता है कि इंट्राडे ट्रेडिंग में जोखिम नहीं है। शेयरों में उतार-चढ़ाव आम आदमी की समझ में नहीं आते है। लेकिन लगातार मिलने वाला बड़ा रिटर्न हमें इसके प्रति आकर्षित भी करता है। 

शेयर मार्केट एकमात्र साधन है, जिसकी मदद से कम पूंजी के जरिए बड़ी पूंजी बनाई जा सकती है। अगर आप भी इंट्राडे ट्रेडिंग करना चाहते हैं, लेकिन पैसा खोने का डर है। एक ट्रेडर को इस बात पर गौर करने के बजाये की क्या इंट्राडे ट्रेडिंग सुरक्षित है नीचे दिए गए सुझावों पर गौर करके उसे कैसे सुरक्षित बना सकते हैं उस पर ध्यान देना चाहिए।

वैसे लगातार ट्रेडिंग करते रहने से आप समय के साथ इसमें महारत हासिल कर लेंगे।

1. कम पैसों से शुरुआत करें

इंट्राडे ट्रेडिंग को बड़े पूंजी निवेश की आवश्यकता नहीं होती है। आपको मार्केट ट्रेंड्स में अनएक्सपेक्टेड पैटर्न  के कारण  नुकसान हो जाता हैं, तो सुनिश्चित करें कि आपका नुकसान कम से कम हो। एक्सपर्ट का कहना है कि इंट्राडे ट्रेडिंग करते समय आपको किसी भी दिन अपनी कुल ट्रेडिंग पूंजी का 2% से अधिक नहीं लगाना चाहिए।

2. सही समय सीमा का चुनाव

इंट्राडे ट्रेडिंग टाइम के साथ-साथ सही अवधि में ट्रेड कर आप अपने नुकसान को सीमित कर सकते है। चूंकि इन घंटो को महत्वपूर्ण बाजार गतिविधि के लिए जाना जाता है, इनका उपयोग करने से आपके मुनाफे को अधिकतम करने में मदद मिल सकती है।  इंट्राडे ट्रेड के लिए सबसे अच्छी समय सीमा के बाहर ट्रेडिंग करने पर अनुभवी इंट्राडे ट्रेडर्स भी अपने पैसे खो सकते हैं।

मार्केट खुलने के बाद एक घंटे तक काफी वोलेटाइल होती है जो ट्रेडर के मुनाफे और नुकसान दोनों का कारण बन सकती है। ऐसे में एक शुरूआती ट्रेडर को हमेशा अपने जोखिमों का आंकलन कर  ही ट्रेड में प्रवेश करना चाहिए।

3. इंडिकेटर्स का उपयोग करें

जब इंट्राडे ट्रेडिंग में लाभ कमाने की बात आती है, तो आपको स्टॉक की टेक्निकल एनालिसिस करने की आवश्यकता होती है। उसी उद्देश्य के लिए, आपको कुछ इंडीकेटर्स का इस्तेमाल करना पड़ता है। इंट्राडे ट्रेडिंग इंडिकेटर्स तब फायदेमंद टूल्स साबित होते हैं, जब रिटर्न को अधिकतम करने के लिए एक स्ट्रेटेजी के साथ उन्हें उपयोग में लाया जाता है।

4. टेक्नोलॉजी का लाभ उठाएं

इंट्राडे ट्रेडिंग  शुरू करने वालों के लिए, टेक्नोलॉजी का लाभ उठाना महत्वपूर्ण है। सुनिश्चित करें कि आपका ब्रोकर आपको नवीनतम और अत्याधुनिक चार्टिंग टूल प्रदान करवाता हो। आपको अपने आप को टेक फ्रेंडली बनाना होगा, ताकि आप ब्रोकर द्वारा साझा की गई जानकारी और शोध तक पहुंचने में सक्षम बन सकें।

टेक्नोलॉजी आपको चार्ट पैटर्न एनालिसिस के आधार पर तेजी से आगे बढ़ने और तुरंत निर्णय लेने में मदद करेगा।

5. एंट्री लेवल और टारगेट प्राइस को परिभाषित करें

कोई भी ऑर्डर देने से पहले एंट्री लेवल और टारगेट प्राइस का साफ-साफ जिक्र करना जरूरी है। यदि आप शुरुआत में डिफ़ॉनेड पैरामीटर्स (परिभाषित मापदंडों) पर कायम रहते हैं, तो ये आपके पक्ष में काम करेगा।

6. एक सख्त स्टॉप लॉस बनाए रखें

स्टॉप लॉस आपके द्वारा निर्धारित किया गया एक लेवल होता है और इसका उपयोग ऑटोमेटिक रूप से शेयरों को बेचने के लिए किया जाता है। यदि कीमत आपके द्वारा निर्धारित किए गए स्टॉप लॉस लेवल से नीचे आती है तो ये नुकसान से बचने में आपकी मदद करता है, क्योंकि यह ट्रेडिंग निर्णयों से भावनाओं को समाप्त करता है। इंट्राडे ट्रेडिंग में शुरुआती लोगों के लिए यह एक महत्वपूर्ण टिप है।

एक सही स्टॉप लॉस को निर्धारित करने के लिए आप बुल और बेयर मार्केट में सपोर्ट और रेजिस्टेंस (support and resistance in hindi) का उपयोग कर सकते है

7. बाजार के अनुरूप रहें

शुरुआती लोगों के लिए सबसे महत्वपूर्ण इंट्राडे ट्रेडिंग टिप्स में से एक बाजार के ट्रेंड्स का पालन करना। कभी-कभी, यहां तक कि सबसे उन्नत चार्टिंग टूल वाले दिग्गज भी बाजार किस करवट बैठेगा यानी की बाजार की चाल क्या होगी इसकी भविष्यवाणी करने में असमर्थ होते हैं।

भारी नुकसान से बचने के लिए, यदि बाजार आपकी अपेक्षाओं के खिलाफ चलता है तो ऐसे में अपनी पोजीशन से बाहर निकलना ही बुद्धिमानी है। 

8. लगातार अभ्यास
एक और महत्वपूर्ण टिप जो शुरुआती लोगों के लिए है कि वो, लगातार अपने ट्रेडिंग कौशल को बेहतर बनाने की कोशिश करें। न्यूज पेपर, ट्रेडिंग ऐप्स का उपयोग करें और पॉडकास्ट और वेबिनार से जुड़े रहें जो आपको अपने कौशल को सुधारने में मदद करते हैं। 

9. कोर्स ज्वाइन करें:

सबसे महत्वपूर्ण इंट्राडे ट्रेडिंग और  टेक्निकल एनालिसिस के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल करने के लिए किसी ऑनलाइन कोर्स की मदद लें। टेक्निकल एनालिसिस से आप सफल ट्रेडिंग करने के बारे में बहुत कुछ समझ सकते हैं। ऑनलाइन ट्रेडिंग कोर्स करने के लिए स्टॉक पाठशाला एप सबसे बेहतरीन ऑप्शन है। 

इस एप में आपको ऑडियो, वीडियो और टेक्स्ट फॉर्मेट में अलग-अलग कोर्स उपलब्ध करवाए गए है, जिससे आप अपने कांसेप्ट को अच्छे से समझ सकते है और पूरी जानकारी के साथ मार्केट में एक सही पोजीशन ले सकते है। 


निष्कर्ष

आप कोई छोटा से छोटा काम भी करते हैं, तो उसके बारे में पूरी जांच पड़ताल करते हैं। लेकिन जब आप शेयर मार्केट में पैसे लगाते हैं तो कुछ परिचितों के या ब्रोकर के कहने पर ही ऐसा कर देते हैं। जरूरी है कि आप शेयर मार्केट से संबंधित अपनी जानकारी बढ़ाते जाएं जैसे-जैसे आपकी जानकारी बढ़ती जाएगी, आप खुद ही यह पाएंगे कि आपका जोखिम घटता चला जा रहा है। 

क्या इंट्राडे ट्रेडिंग सुरक्षित है या नहीं ये आपके ट्रेडिंग कौशल में सही ब्रोकर का चुनाव, टेक्नोलॉजी, सही स्ट्रेटेजी और टेक्निकल एनालिसिस और इंडिकेटर्स पर निर्भर करता है। इसलिए इन सबके बारे में लगातार अपने आप को अपटेड रखें और लगातार अभ्यास करते रहें।


अगर आप स्टॉक मार्केट सीखने से जुड़े कुछ सवाल पूछना चाहते है तो संपर्क करने के लिए नीचे दिए गए फॉर्म में अपना विवरण भरे:

Start Learning through Free & Pro Stock Market Courses!

Install Stock Pathsahla and Get Exclusive 20% off on all subscriptions.Use Coupon Code SPWEB20

Install Stock Pathshala App Now

 

error: Oh wait! The content is locked from copying!